Tuesday, 9 April 2019

Web portal क्या है? पोर्टल और वेबसाइट में क्या अंतर है?



what is web portal in Hindi

आपने कहीं न कहीं वेब पोर्टल का नाम जरुर सुना होगा। कई बार वेबसाइट और पोर्टल दोनों को एक ही समझा जाता है। लेकिन क्या इन दोनों में कोई अंतर नही है? आखिर वेब पोर्टल क्या होता है? इसका क्या काम है? इन सभी सवालों के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिलेंगे।
वेब पोर्टल क्या है? What is Web Portal in Hindi? दरअसल यह एक प्रकार का वेबसाइट ही है जहाँ अलग-अलग sources से कई सारे सूचनाओं को एकत्रित कर एक single platform पर उपलब्ध कराया जाता है। लेकिन इसे access करने के लिए यूजर को लॉग इन करना पड़ता है जिसके लिए username और password की जरुरत पड़ती है।

यह एक प्रकार का विशेष रूप से डिजाईन किया गया वेबसाइट होता है जो किसी विशेष काम के लिए उपयोग होता है। आजकल लगभग हर बिज़नस या आर्गेनाइजेशन में पोर्टल की जरुरत होती है जिसमे वहां के employee को एक ही स्थान पर सारी जानकारियाँ मिल जातीं हैं।

उदाहरण के लिए किसी हॉस्पिटल के लिए एक patient portal बनाया जा सकता है। जिसपर वहां के डॉक्टर्स लॉग इन करके उस हॉस्पिटल के सारे मरीजों की जानकारी एक ही स्थान पर देख सकते हैं। यह एक प्रकार का प्राइवेट पोर्टल होगा जो सिर्फ उस हॉस्पिटल के स्टाफ के लिये उपयोगी होगा।

इसके अलावा कई सारे पब्लिक पोर्टल्स भी होते हैं जहाँ पर कोई भी अपना account बना कर पोर्टल की सुविधाओं का लाभ उठा सकता है।

ज्यादातर पोर्टल्स किसी विशेष category पर बनाये जाते हैं और user को personalized information दिया जाता है यानी यूजर को उनके जरुरत के अनुसार अलग-अलग तरह की जानकारियाँ दी जातीं हैं।

जैसे job portal, जहाँ सिर्फ नौकरी और रोजगार जैसी सूचनाएं यूजर तक पहुंचाई जाती हैं। लेकिन हर नौकरी की सूचना हर यूजर को नही भेजी जाती यह निर्भर करता है यूजर की योग्यता पर।

जब naukri. com जैसे जॉब पोर्टल पर आप register करते हैं तो वहाँ आप अपना resume डाल सकते हैं और अपनी शिक्षा, अनुभव और योग्यता की जानकारी दे सकते हैं। इसके बाद आपके द्वारा दी गयी इन सारी जानकारियों के अनुसार आपके योग्य नौकरी की सूचनाएं आपको दी जाती हैं।

इन वेब पोर्टल्स को डेस्कटॉप, मोबाइल फ़ोन जैसे किसी भी डिवाइस के द्वारा इन्टरनेट के जरिये कहीं से भी  access किया जा सकता है।

पोर्टल कितने प्रकार के होते हैं? Types of Web Portals in Hindi वैसे तो वेब पोर्टल के कई प्रकार के होते हैं लेकिन उनमे से मुख्य प्रकारों के नाम नीचे दिए गये हैं:
  • Vertical Portals: इस प्रकार के पोर्टल में किसी एक विषय, इंडस्ट्री, या क्षेत्र के बारे में जानकारी होती है। उदाहरण के लिए यदि कोई बिज़नस पोर्टल है तो उसमे केवल बिज़नस के बारे में ही जानकारियाँ होंगी।
  • Horizontal Portals: इसे "मेगा पोर्टल" भी कहा जाता है, क्योंकि यहाँ कई सारे topics के बारे में contents उपलब्ध होते हैं। 
  • Enterprise Portals: यह privat portal होता है जो किसी organization के कर्मचारियों के लिए बनाया जाता है। इसपर employee की सुविधा और सहायता के लिए तरह-तरह के information और services provide किये जाते हैं। 
  • Knowledge Portals: इस पोर्टल का उद्देश्य होता है की जानकारियों को सही और आसान तरीके यूजर तक पहुँचाया जाय। 
  • Market Place Portals: इसका उपयोग business to business (B2B), business to customer (B2C) के support के लिए किया जाता है। जैसे ecommerce की site जहाँ customer आसानी से products ढूंढ पाता है, इसे मार्केटप्लेस पोर्टल कहा जा सकता है।
वेब पोर्टल की विशेषताएं (Features of Web Portal)
  • लॉग इन करना जरुरी होता है: पोर्टल में दी गयी सुविधाओं को पाने के लिए यूजर को login करना पड़ता है।
  • पोर्टल के मेम्बेर्स ही access कर सकते हैं: यदि आप registered member नही हैं तो आप इसपर नही कर पायेंगे।
  • Personalized Information: हर यूजर सारी जानकारियों को देख नही सकता उसको उसके role और permission के अनुसार ही जानकारियां दिखाई जाती हैं।
  • Domain Specific: किसी एक category या एक विशेष क्षेत्र के लोगों के लिए हो सकता है।
  • Dynamic Contents: एक वेबसाइट के मुकाबले पोर्टल पर information लगातार बदलते रहते हैं क्योंकि अलग-अलग यूजर को उनके काम की ही जानकारी और services दी जाती हैं।
  • Communication: यह भी पोर्टल का एक feature होता है जिससे मेम्बर आपस में बात कर सकते हैं और एक दुसरे के संपर्क में रह सकते हैं।
वेब पोर्टल्स के कुछ उदहारण
Web portals के कई सारे examples हैं जिनमे से कुछ ऐसे भी हैं जिन्हें हम हर रोज use करते हैं। ऐसे popular web portals के नाम नीचे दिए गये हैं।
  • Google
  • Yahoo!
  • Facebook
  • YouTube
  • Twitter
  • Blogger
  • Amazon
  • Flipkart
  • PayTM
  • Naukri
  • Monster
  • OnlineSBI
  • UIDAI - Aadhar Card Portal
  • TimesOfIndia
  • 99acres
  • Yatra
ये सारे पोर्टल्स अपने users को personalized information provide करते हैं। जैसे यदि हम गूगल की बात करें तो user के country, area और personal settings के अनुसार search results दिखाता है।

पोर्टल और वेबसाइट में क्या अंतर है? Website Vs Web Portal in Hindi

वेबसाइट वेब पोर्टल्स
इसे कोई भी publicaly access कर सकता है। यह private होता है और इसे केवल registerd users ही access कर सकते हैं।
लॉग इन करने की जरुरत नही पडती। लॉग इन करना पड़ता है।
इसके content सभी के लिए एक सामना होते हैं। अलग-अलग यूजर के लिए अलग-अलग कंटेंट हो सकते हैं।
Website में communication की सुविधा नही होती। यहाँ पर two-way communication होता है। users पोर्टल पर बात कर सकते हैं।
वेबसाइट का उद्देश्य किसी कंपनी, प्रोडक्ट आदि के प्रचार के लिए किया जाता है इस लिए इस पर अधिक से अधिक traffic drive करने की कोशिश की जाती है ताकि यह ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुँच सके। जबकि एक portal का काम users, clients, employees आदि को सुविधाएँ प्रदान करना होता है। यानी इसे विशेष ग्रुप के लोगों को ध्यान में रख कर बनाया जाता है।
आगे पढ़ें:

हमें उम्मीद है की यह आर्टिकल पढ़ कर आपको समझ आ गया होगा की web portal क्या होता है और website और portal में क्या differences हैं

इस बारे में आप अपना सवाल या सुझाव नीचे comment करके हमें जरुर बताएं।


नमस्कार, मैं विवेक, WebInHindi का founder हूँ। इस ब्लॉग से आप वेब डिजाईन, वेब डेवलपमेंट से जुड़े जानकारियां और tutorials प्राप्त कर सकते हैं। अगर आपको हमारा यह ब्लॉग पसंद आये तो आप हमें social media पर follow कर हमारा सहयोग कर सकते हैं|

इस Post से सम्बंधित किसी भी तरह का प्रश्न पूछने या सुझाव देने के लिए नीचे comment कीजिये.
EmoticonEmoticon

और पढ़ें: