Wednesday, 4 December 2019

डिजिटल मार्केटिंग में कैसे बनाये सुनहरा करियर? Career in Digital Marketing in Hindi



digital marketing me career kaise banaye

डिजिटल मार्केटिंग” आजकल आपको ये शब्द बहुत ज्यादा सुनने को मिल रहा होगा। हालाँकि हम आपको पहले भी इस बारे में बता चुके हैं की डिजिटल मार्केटिंग क्या है और कितने प्रकार के होते हैं? लेकिन आज हम बात करने वाले हैं की कैसे आप इसे सीखकर बना सकते हैं अपना एक बेहतरीन करियर।

अब आप ये तो जानते ही हैं की किसी भी बिज़नस के लिए मार्केटिंग कितनी जरुरी है। क्योंकि आपके पास कितना भी अच्छा प्रोडक्ट क्यों न हो जब तक उसके बारे में लोगों को पता नही चलेगा तब तक उसकी कोई वैल्यू नही है क्योंकि कोई उसे लेगा नही और आपको उसका प्रॉफिट मिलेगा नही।

इसलिए मार्केटिंग का बहुत ही अहम रोल है आपके बिज़नस को आगे बढ़ाने में। हालंकि आप अपने बिज़नस या ये कहें की अपने प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में लोगों को दो तरीकों से बता सकते हो एक ऑफलाइन मार्केटिंग करके और दूसरा ऑनलाइन मार्केटिंग करके जिसे हम डिजिटल मार्केटिंग भी कहते हैं। तो आज हम बात करने वाले डिजिटल मार्केटिंग के बारे में।


डिजिटल मार्केटिंग क्या है?

वैसे तो डिजिटल मार्केटिंग के अंदर ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों प्रकार की मार्केटिंग होती है लेकिन आजकल ऑनलाइन मार्केटिंग या इन्टरनेट मार्केटिंग को ही डिजिटल मार्केटिंग कहा जाने लगा है।

यानि यहाँ पर डिजिटल मार्केटिंग का अर्थ ऑनलाइन मार्केटिंग से है।

जब हम किसी प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग ऑनलाइन तरीके से करते हैं तो उसे हम डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में काम कैसे होता है?

वैसे तो कई सारे तरीके हैं काम करने के लेकिन यहाँ पर मुख्य रूप से हमारे पास एक वेबसाइट होता है जो की हमारे बिज़नस से रिलेटेड होता है। जैसे अगर कोई हम प्रोडक्ट जैसे- कपड़ा, मोबाइल आदि ये सब बेचते हैं तो ऑनलाइन हमारी एक e-commerce टाइप की वेबसाइट हो सकती है।

इसी तरीके से अगर हम किसी प्रकार की सर्विस लोगों को देते हैं तो उसकी भी हम एक वेबसाइट बना सकते हैं।

वेबसाइट बनाने के बाद अगला स्टेप आता है वेबसाइट के ऑनलाइन प्रमोशन का, ताकि हमारे प्रोडक्ट के बारे में लोगों को पता चले और वो उसे ख़रीदे।

तो ऑनलाइन प्रोडक्ट और सर्विस को वेबसाइट के जरिये प्रमोट करने के कई तरीके होते हैं:

सर्च इंजन - डिजिटल मार्केटिंग में सर्च इंजन यानि गूगल, Bing आदि इन सभी का बहुत ही अहम रोल होता है। सर्च इंजन के जरिये हमारी वेबसाइट पर दो तरीके से लोग आते हैं:
  • Organic search 
  • Paid search 
ये दोनों डिजिटल मार्केटिंग का ही पार्ट हैं।

Organic search मतलब की इसमे हमे गूगल या किसी भी सर्च इंजन को कोई पैसा नही देना अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने का लेकिन हमे अपनी वेबसाइट को गूगल या किसी और सर्च इंजन के हिसाब से कस्टमाइज करना है जिसे हम कहते हैं SEO जिसके बाद ये सर्च इंजन हमारी वेबसाइट को तब अपनी सर्च इंजन में तब सबसे ऊपर दिखायेगा जब कोई विजिटर हमारी वेबसाइट से रिलेटेड कोई चीज़ गूगल या बाकि सर्च इंजन में सर्च करेगा।

Paid search  में हमे गूगल को पैसे देने पड़ते हैं अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिए। गूगल ने इसके लिए अपना एक प्लेटफार्म अलग से Google Adwords बनाया हुआ है। जहाँ हम अपने प्रोडक्ट की प्रमोशन के लिए ads कैंपेन ऑनलाइन बना सकते हैं।

सोशल मीडिया- दूसरा तरीका है डिजिटल मार्केटिंग में सोशल मीडिया जहाँ हमे अपने प्रोडक्ट या सर्विस को प्रमोट करने के लिए फेसबुक, Instagram, ट्विटर और LinkedIn इन सभी पर शेयर करना होता है।

हालंकि इन सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी हम दो तरीके से अपने प्रोडक्ट और सर्विस को मार्केटिंग कर सकते हैं। एक आर्गेनिक तरीका जिसमे हमे कोई भी पैसा नही देना होता है लेकिन कोशिश करनी होती है की ज्यादा से ज्यादा लोग हमे सोशल मीडिया पर फॉलो करें। जिसके लिए हमे attractive पोस्ट रेगुलर शेयर करने होते हैं।

दूसरा तरीका होता है paid Ads जिसमे हम सोशल मीडिया पर अपने प्रोडक्ट से related Ads कैंपेन बनाते हैं और इसके लिए हमे उन्हें पैसे भी देने पड़ते हैं।

E-mail- ये भी एक बहुत ही बढ़िया तरीका है टार्गेटेड लोगों को अपने वेबसाइट पर लाने का ताकि हमारी प्रोडक्ट की sell हो। जब हमारी वेबसाइट पर कोई भी विजिटर आता है तो हम कोशिश करते हैं की वो हमारे email सब्सक्राइब widget को fill करे ताकि हमारे पास उसकी email address आ जाये और फिर जब हमारा कोई new प्रोडक्ट या अपडेट आये तो हम उसे डायरेक्ट mail कर सके यही E-mail marketing होता है।

Google Analytics- ये भी डिजिटल मार्केटिंग का बहुत ही इम्पोर्टेन्ट टूल है जिसमे हम जितना भी ट्रैफिक हमारे वेबसाइट पर visitor हर रोज आते हैं, उसे देख सकते हैं। इसके साथ -साथ इसमें हम ये भी जान सकते हैं ये ट्रैफिक कौन-कौन सी location से है कौनसे से डिवाइस से है सब कुछ।

तो ये कुछ बहुत ही इम्पोर्टेन्ट चीजें थी जिनको हम डिजिटल मार्केटिंग में प्रयोग करते हैं। I hope अब आपका डिजिटल मार्केटिंग क्या है इसका concept जरुर क्लियर हो गया होगा।

लेकिन अब आपके मन में सवाल ये होगा की ये क्यों आज के टाइम में डिजिटल मार्केटिंग इतना इम्पोर्टेन्ट हो गया है। क्यों इतने सारे कोचिंग सेंटर इसी कोर्स पर इतना ध्यान देने लगे हैं और सारी कम्पनी चाहे वो छोटी हो या बड़ी, डिजिटल तरीके से अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करना पसंद कर रहे हैं।


डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरुरी है आज के दौर में?

आखिर हम digital marketing के बारे में क्यों बात कर रहे हैं? आज के समय में आखिर इसका महत्व कितना? आखिर क्यों हर एक बिज़नस ऑनलाइन होते जा रहे हैं?

चलिए जानते हैं की आजकल digital marketing trend में क्यों है:

इन्टरनेट का विस्तार
सबसे बड़ा कारण तो यही है की आज के समय में इन्टरनेट अब लोगों का पास बहुत ही आसानी से मिल जाता है। और लोग अपना सबसे ज्यादा समय इन्टरनेट पर ही बिताते हैं। कभी फेसबुक या Instagram चलाने में या फिर कभी गूगल में कुछ सर्च करते हैं नही तो YouTube में कोई न कोई विडियो देखते हैं।

इसलिए जो बिज़नस करते हैं वो क्यों न अपने प्रोडक्ट को इन सभी प्लेटफार्म के माध्यम से लोगों के पास पहुचाएं। और मार्केटिंग में एक कहावत बहुत प्रसिद भी की "वहां रहिये जहाँ आपके ग्राहक हैं"

कम लागत
दूसरा जो एक बहुत ही बड़ा कारण है डिजिटल मार्केटिंग को चुनने का low cost यानि कम लागत। जब आप ऑफलाइन तरीके से अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करते हो तो उसमे आपको टीवी पर ads, newspaper में ads या फिर बड़े -बड़े बैनर ,पोस्टर पब्लिक प्लेस पर लगाने होते हैं जिसमे बहुत ही ज्यादा आपकी इन्वेस्टमेंट होती है लेकिन जब आप अपने प्रोडक्ट को ऑनलाइन तरीके से मार्केटिंग करते हो तो आपको ऑफलाइन के तुलना में आधे से भी कम लागत लगती है। लेकिन प्रॉफिट आपको उससे 10 गुना ज्यादा मिल सकता है।

बहुत जल्दी वैल्युएबल ब्रांड बना सकते हैं
जब आप ऑनलाइन तरीके से अपने बिज़नस की मार्केटिंग करते हो, वो भी तब जब की आप बिलकुल नये हो और आपको कोई नही जानता तो आप कंटेंट मार्केटिंग यानि टेक्स्ट या विडियो कंटेंट के जरिये अपने प्रोडक्ट के बारे में लोगों को जागरूक कर सकते हो| की आखिर हमारा ये प्रोडक्ट आपके लिए किस तरीके से हेल्पफुल होगा या बेस्ट होगा।

जिससे लोग आपको न सिर्फ जान पाएंगे बल्कि आपके प्रोडक्ट पर trust भी करने लगेंगे और वो आपके लॉयल कस्टमर बन पाएंगे। डिजिटल मार्केटिंग के जरिये आप अपने बिलकुल न्यू ब्रांड को बहुत ही जल्द एक वैल्यूबल ब्रांड बना सकते हैं। 

टार्गेटेड मार्केटिंग
ये डिजिटल मार्केटिंग में बहुत ही बढ़िया एक सुविधा है की आप सिर्फ उन्ही लोगों को अपने प्रोडक्ट का ad दिखा सकते हो जो आपके प्रोडक्ट को लेकर इंटरेस्टेड हैं। अब चाहे आप फेसबुक के जरिये ad कैंपेन चलायें या फिर Google Ads के जरिये। 

री-मार्केटिंग
अगर मान लीजिये आपकी वेबसाइट पर कोई विजिटर आया और उसने आपके प्रोडक्ट को चेक तो किया लेकिन buy नही किया। तो आप उसको दुबारा से अपने प्रोडक्ट के ad दिखा सकते हो जिसे री-मार्केटिंग कहा जाता है। जिससे काफी ज्यादा चांसेस बन जाते हैं की वो विजिटर आपका प्रोडक्ट अब खरीद लेगा तो ये भी एक बहुत ही बढ़िया आप्शन है ऑनलाइन मार्केटिंग में जिसे ऑनलाइन मार्केटिंग एक्सपर्ट भी खुद मानते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में करियर की सम्भावनाएं

मुझे पूरी उम्मीद है की आप अच्छे से जान गये होंगे की आज के समय में किसी भी बिज़नस को grow करना है तो डिजिटल मार्केटिंग कितनी अहम रोल प्ले कर सकता है।

और यही कारण है की आज हर छोटी-से-छोटी और बड़ी-से-बड़ी बिज़नस अपने प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग में ऑनलाइन को ही प्राथिमिकता देती हैं। और जिससे आज इंडस्ट्री में डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट लोगों की डिमांड दिन-प्रति-दिन बढती जा रही है। न सिर्फ डिजिटल मार्केटिंग के फील्ड में नौकरी की डिमांड ही है बल्कि कंपनी काफी अच्छा सैलरी पैकेज भी उन्हें देने को तैयार हैं।

तो अगर आप अपनी current जॉब को लेकर ज्यादा खुश नही है या फिर आप अपने करियर में अपग्रेड होना चाहते हैं। मै आपको बता दूँ की आप डिजिटल मार्केटिंग में कुछ साल काम करने के बाद अपना खुद का भी ऑनलाइन बिज़नस सेटअप कर जैसे ब्लॉगिंग, या फिर अपनी खुद की डिजिटल मार्केटिंग एजेंसी से या फिर आप खुद भी किसी का प्रोजेक्ट पर काम कर सकते हो तो, आप डिजिटल मार्केटिंग के फील्ड में न सिर्फ जॉब से बल्कि बाकि और भी बहुत कुछ करके बहुत अच्छा ऑनलाइन पैसे कमा सकते हो।

और मै आपको ये भी बताउं की डिजिटल मार्केटिंग में आपको ज्यादा स्ट्रेस भी नही लेना पड़ता| हाँ शुरू में जब आपको उतना आईडिया नही होता तो जरुर थोडा effort लगाना पड़ता है लेकिन उसके बाद आप काफी आराम से अपनी जिंदगी में काम के साथ-साथ अपनी जिदंगी को एन्जॉय भी कर पाओगे।

या फिर आपने अभी 12th पास की है या या फिर कॉलेज खत्म किया है और जॉब ढूंड रहे हैं तो डिजिटल मार्केटिंग आपके लिए सबसे बेस्ट आप्शन है अपने करियर को सुनहरा बनाने का। 

लेकिन अब बात आती है की डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखें ? तो मै अब आपको दो तरीके बताता हूँ जिससे आप डिजिटल मार्केटिंग सीख सकते हो। लेकिन उससे पहले मै आपको बताना चाहता हूँ की आपके अन्दर क्या-क्या स्किल का होना बहुत जरुरी है एक बेहतरीन डिजिटल मार्केटर बनने के लिए।

डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए क्या-क्या स्किल होना बहुत जरुरी है।

हालंकि डिजिटल मार्केटिंग सिखने में जो चीजें आती हैं वो तो आप जब डिजिटल मार्केटिंग सीखते हो तो आपको बताई ही जाती हैं लेकिन उसके अलावा भी आपके अन्दर अलग से क्या-क्या स्किल का होना जरुरी है ताकि आप डिजिटल मार्केटिंग में एक बेहतरीन करियर बना सको।

खुद का इंटरेस्ट और इन्टरनेट से प्यार:
अगर आप डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनना चाहते हो तो आपका खुद का इंटरेस्ट उसमे हो ये बहुत ही जरुरी है। आपको इन्टरनेट चलाना अच्छा लगता हो उसमे न्यू चीजों के बारे में अपडेट होना और उन्हें सीखना पसंद हो। सोशल मीडिया का प्रयोग करना आपको अच्छा लगता हो। साथ ही आपका बिज़नस की तरफ भी एक रुझान हो क्योंकि जब आप मार्केटिंग में किसी भी प्रोडक्ट को प्रमोट करते हो तो आपको काफी स्ट्रेटेजी बनानी पडती हैं की कैसे बिज़नस में प्रॉफिट हों।

कम्युनिकेशन स्किल:
डिजिटल मार्केटिंग में जरुरत होती हैं इंग्लिश की, बहुत ज्यादा नही लेकिन फिर भी आप कंटेंट को समझ सको थोडा बहुत लिख और बोल सको। क्योंकि इंग्लिश एक बिज़नस लैंग्वेज हैं इसलिए जितने भी बिज़नस मार्केटिंग करती हैं उसमे वो इंग्लिश का ही प्रयोग करती हैं इसलिए आपको इंग्लिश की मध्यम लेवल की जानकरी हो बहुत जरुरी है।

Analytical स्किल:
जब आप कोई कैम्पेन ऑनलाइन चलाते हो तो आपको बाद में ये anlyasics करना होता है की कितने लोग वेबसाइट पर आये। कितनो ने प्रोडक्ट को ख़रीदा ताकि आपका अगला स्टेप सही हो इसलिए डिजिटल मार्केटिंग में एनालिटिकल स्किल का होना बहुत बहुत जरुरी है।

Upgrading skill:
डिजिटल मार्केटिंग में सबसे अहम होता है खुद को अपडेट रखने के साथ-साथ अपग्रेड भी करना क्योंकि आप तो जानते ही हैं की इन्टरनेट पर सेकंड में चीजें बदलती हैं इसलिए बिज़नस grow करें इसके लिए आपको ट्रेंड का साथ चलना जरुरी है जिसके लिए आपको अपग्रेड होना पड़ेगा।
तो ये सभी पॉइंट्स थे जो आपको ध्यान में रखकर डिजिटल मार्केटिंग को चुनना है।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखें 

अब तक के पोस्ट में आपने जान लिया की डिजिटल मार्केटिंग क्या है, क्यों आज के दौर में जरुरी हो गया है और आपके अन्दर क्या -क्या स्किल होनी जरुरी है डिजिटल मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए।

अब हम बात करेंगे सबसे इम्पोर्टेन्ट पॉइंट की डिजिटल मार्केटिंग कैसे सीखें?

तो mainly दो तरीके से हम डिजिटल मार्केटिंग सिख सकते हैं।

1. डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करें
डिजिटल मार्केटिंग सीखने का सबसे पहला तरीका तो यही है की आप किसी अच्छे से कोचिंग सेण्टर को सर्च करके वहां से डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करें।

आजकल बहुत से ऑनलाइन प्लेटफार्म भी आपको मिल जायेंगे जहाँ से आप डिजिटल मार्केटिंग सीख सकते हैं इनकी खास बात यह है की की किसी कोचिंग सेण्टर के मुकाबले इनकी फीस सस्ती होती है।

लेकिन ऑफलाइन क्लास की बात करें तो इसके अलग फायदे हैं जैसे क्लास रूम में डिजिटल मार्केटिंग सीखते समय कोई परेशानी आये तो उसे फैकल्टी की मदद से जल्दी सुलझा सकते हैं।

2. खुद का ब्लॉग या वेबसाइट बनाकर डिजिटल मार्केटिंग सीखें 
दूसरा जो तरीका है डिजिटल मार्केटिंग सीखने की आप खुद का ब्लॉग या वेबसाइट बनाये। इन्टरनेट के माध्यम से आप lesson-by-lesson जो डिजिटल मार्केटिंग के बारे में सीखते हैं, उसकी Practice अपने ब्लॉग पर करें। 
अपने ब्लॉग/वेबसाइट पर ट्रैफिक लाना सीखें, अपने audience को value provide करें और आखिर में उनके काम की चीजें सेल करें।

यह भी पढ़ें:
Final Words
मुझे पूरी आशा है की आपको इस पोस्ट को पढने के बाद जानकरी हो चुकी होगी की आप कैसे डिजिटल मार्केटिंग में अपना करियर सुनहरा बना सकते हो।

अगर आपका कोई भी सुझाव या सवाल हमारे पोस्ट के बारे में है तो आप हमे कमेंट करके बता सकते हैं।

Guest Author Bio:
मेरा नाम दीपक भण्डारी है और मै DeepakBhandari.in फाउंडर हूँ |  मेरे इस ब्लॉग पर आपको डिजिटल मार्केटिंग, ऑनलाइन बिज़नेस, इन्टरनेट और ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए से related काफी सारी helpful जानकारी मिलेंगी। यह ब्लॉग बनाने के पीछे मेरा सबसे बड़ा उद्देश्य यही है की लोगों को डिजिटल मार्केटिंग और ऑनलाइन बिज़नस के बारे मे जानकारी दूँ ताकि जो लोग ऑनलाइन बिज़नेस कर रहे हैं या करना चाहते हैं उन्हें अपने बिज़नेस को grow करने मे help मिले।

अगर आप भी WebinHindi पर guest post publish करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें

नमस्कार, मैं विवेक, WebInHindi का founder हूँ। इस ब्लॉग से आप वेब डिजाईन, वेब डेवलपमेंट से जुड़े जानकारियां और tutorials प्राप्त कर सकते हैं। अगर आपको हमारा यह ब्लॉग पसंद आये तो आप हमें social media पर follow कर हमारा सहयोग कर सकते हैं|

इस Post से सम्बंधित किसी भी तरह का प्रश्न पूछने या सुझाव देने के लिए नीचे comment कीजिये.
EmoticonEmoticon

और पढ़ें: