Saturday, 27 January 2018

Web Designer कैसे बने? इसके लिए क्या-क्या सीखें?

Web designer kaise bane? iske liye kya seekhen

इससे पहले एक post में हमने आपको web design सीखने के 15 कारण बताये थे जिसमे हमने यह बताने की कोशिश की थी की आपको वेब डिजाईन क्यों सीखना चाहिए और इसे सीखने के कितने फायदे हैं| आज हम आपको बताएँगे की web designer कैसे बने और इसके लिए कौन-कौन से technical skills की जरूरत पड़ती है|

यदि आप एक professional web designer बनना चाहते हैं लेकिन confused हैं की इसके लिए क्या-क्या सीखें और कहाँ से शुरुआत करें तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं|

आज हम आपको इस article में बताएँगे की एक professional web designer बनने के लिए आपको क्या-क्या सीखना चाहिए और किन-किन बातों को ध्यान में रख कर आप इस field में बेहतर career बना सकते हैं |

Web Designer बनने के लिए क्या-क्या सीखें?

Design Sense
web design sense
Design sense एक प्रकार का soft skill है जो की किसी भी product को बनाने से पहले उसको plan करने और उसका blueprint create करने में हमारी मदद करता है |

जाहिर सी बात है यदि आप एक अच्छा designer बनना चाहते हैं तो आपकी design sense अच्छी होनी चाहिए|

यदि हम web design की बात करें तो आपको एक अच्छा website design करने के लिए कई सारी चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा जैसे :
  • Color Palette 
  • Typography 
  • Layout Design
  • Images का सही उपयोग  
  • UX ( User Experience ) आदि 
यदि आपको लगता है की आपकी design sense अच्छी नही है तो आपको परेशान होने की जरूरत नही है आप नीचे दिए गये कुछ tips को follow करके अपना design sense improve कर सकते हैं :

चीजों को observe करें :
जैसा की आपको पता है की जब हम किसी चीज को अच्छी तरह से observe करते हैं तभी हम उसे ठीक तरह से समझ पाते हैं, ठीक ऐसे ही आपको पहले से बने हुए designs पर बारीकी से ध्यान देना है |

जब भी किसी website पर visit करें तो नीचे दिए गये कुछ चीजों पर ध्यान दें:
  • Layout structure
  • Navigation design
  • Fonts
  • Images
  • Icons
  • Elements के बीच white spaces
अपने inspiration के लिए आप नीचे दिए गये कुछ websites पर visit कर सकते हैं:
इस तरीके से आप उस वेबसाइट के अलग-अलग elements पर focus कर पाएंगे और उनके डिजाईन को अच्छे से समझ पायेंगे|

Good और bad design के बीच के difference को समझें
आपको अगर कोई भी अच्छा design बनाना है तो सबसे पहले आपको good design और bad design के बीच के अंतर को समझना होगा|

यदि कोई डिजाईन अच्छा है तो आपको इस चीज पर focus करना चाहिए की उसमे ऐसी क्या बात है, ऐसा कौन सा element है जिसकी वजह से वह औरों से अलग और बेहतर है|

साथ ही आपको यह भी सीखना है की किस प्रकार के डिजाईन और elements का उपयोग करना है और किन चीजों के उपयोग से आपको बचना चाहिए|

Designing से related articles पढ़ें
आप web design से जुड़े नए-नये trends और techniques से updated रहना चाहते हैं तो आपको इससे जुड़े articles पढने चाहिए|

इसके अलावा आपको नई-नई चीजें सीखते रहना चाहिए इसके लिए आप internet पर web design tutorials search कर सकते हैं या हमारे इस ब्लॉग webinhindi.com पर visit करते रहें यहाँ हम आपको web design tutorials Hindi में provide करते रहेंगे|

Practice and repeat
और अंत में आपको अपने design sense improve करने के लिए ऊपर दिए गये tips को follow करते हुए लगातार practice करते रहना चाहिए|

Basic Image Editing
Image editing skill for web designer
आप एक designer हैं तो आपके पास image editing जैसी basic skill जरुर होना चाहिए यदि आपको image editing नही आती तो समय आ गया है की आप कुछ designing software जैसे Photoshop, GIMP, Sketch आदि में से कम से कम किसी एक पर editing  करना सीख लें|

एक web designer को editing से related कई सारे काम करने होते हैं जैसे logo design करना, mockup create करना, website के लिए images बनाना आदि| ऐसे में आपके लिए image editing software सीखना काफी फायदेमंद साबित होगा|

HTML & CSS
HTML-CSS

आप पहले बना हुआ theme या template use कर तो सकते हैं लेकिन अपने client के specific requirements को पूरा करने के लिए आपको थोड़ी-बहुत coding skills की जरूरत तो पड़ेगी ही|

आजकल कई सारे WYSIWYG (What You See Is What You Get) tools भी आ गये हैं जिनसे आप बिना coding किये डिजाईन बना सकते हैं लेकिन यदि आपको HTML और CSS आता है तो आप यह समझ सकते हैं की वह tool काम कैसे कर रहा और इससे आपका आपके design के ऊपर ज्यादा control रहेगा|

आप HTML और CSS सीख कर बिना किसी tool के स्वतंत्र रूप से केवल एक Notepad पर भी काम कर सकते हैं|

यदि आपको HTML और CSS नही आती तो आपके लिए नीचे कुछ links दिए हैं जिन्हें आप follow कर सकते हैं:

Javascript & jQuery
JS-jquery-hindi
वैसे तो यह एक web developer के लिए बहुत ही जरुरी होता है की उसे Javascript में code लिखना आना चाहिए लेकिन यदि आप web designer बनना चाहते हैं तो आप HTML और CSS के अलावा यदि Javascript भी सीख लें तो आप competition में कई लोगों से आगे निकल सकते हैं|

Javascript से आप एक साधारण HTML page को amazing और interactive बना सकते हैं|

As a web designer यदि आपको Javascript नही आती तो कम से कम आपको jQuery जरूर सीख लेना चाहिए|

jQuery Javascript का ही एक library है जिससे आप बड़ी आसानी से कुछ basic interactive चीजें जैसे fadeIn, fadeOut effect, form validation आदि बना सकते हैं|

Javascript और jQuery के बारे और अधिक जानने के लिए नीचे के links पर जा सकते हैं:

Responsive Design

Responsive web design hindi
आजकल हमने अलग-अलग कई तरह के devices का उपयोग करना शुरू कर दिया है ऐसे में यह आज के समय की मांग है की आपकी website responsive होनी चाहिए ताकि वह अलग-अलग size वाले devices पर सही तरह से काम कर सके|

Responsive web design से जुड़े कुछ articles आप नीचे दिए गये links पर जाकर पढ़ सकते हैं:
Front-End Framework
Bootstrap-hindi
किसी भी web designer के लिए एक framework बहुत ही उपयोगी साबित होता है यह designing के काम को आसान कर देता है और designer को एकदम शुरुआत से coding करने की जरूरत नही पड़ती |

असल में front-end framework एक प्रकार का पहले से बना हुआ collection of components  (HTML, CSS , JS documents ) होता जिन्हें हम अपने जरुरत के अनुसार अपनी website पर use कर सकते हैं|

वैसे तो front-end framework कई सारे हैं जैसे की Bootstrap, Foundation, UIkit, Bulma आदि लेकिन इनमे से सबसे ज्यादा popular Bootstrap है जिसे सीखना भी बहुत आसान है|

अगर आप Bootstrap सीखना चाहते हैं तो इसके लिए नीचे दिये गये links पर जा सकते हैं:
CMS (Content Management System)
Wordpress-CMS
Content management system एक प्रकार का software है जिसे server पर install करने के बाद हम बिना किसी coding के अपने website के contents को बड़ी आसानी से manage कर सकते हैं|

आपने Wordpress के बारे में जरुर सुना होगा यह एक CMS है जो एक user friendly environment create करता है जहाँ से website का admin webpages तथा अन्य contents को create, edit, publish और organize कर सकता है|

CMS पर आप अपने जरुरत अनुसार plugins install करके website के features को extend कर सकते हैं| उदाहरण के लिए यदि आपको e-commerce की website बनानी है तो आप Wordpress पर WooCommerce नाम की plugin install करके कुछ ही समय में एक shopping वाली site बड़ी आसानी से बना सकते हैं|

Wordpress के अलावा और भी कई तरह के CMS होते हैं जैसे Joomla, Magento, Drupal आदि इन सभी के अपने-अपने advantages और limitations हैं जिन्हें अच्छी तरह से जानने के बाद ही जरुरत के अनुसार सही CMS का चुनाव किया जाना चाहिए|

As a web designer आपको इन CMS के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए ताकि जरुरत पड़ने पर आप इनका सही तरीके से उपयोग कर सकें|

PHP, ASP, JAVA ( Optional )
Programming language
वैसे तो एक web designer को इन advanced programming languages को सीखना जरुरी नही है लेकिन यदि आप इन पर coding करना सीख जाते हैं तो आप अपना career और भी strong कर सकते हैं|

PHP, ASP, Java, Perl के अलावा और भी कई सारे languages हैं लेकिन यदि आप इनमे से कोई एक पर qualified हो जाते हैं तो यह एक वेब डिज़ाइनर के पर्याप्त होगा |

अगर आप programming सीखना चाहते हैं तो PHP से शुरुआत कर सकते हैं इसके अलावा database के लिए MySQL सीख सकते हैं|


तो आज आपने इस article में जाना की web designer कैसे बने और वेब डिज़ाइनर बनने के लिए क्या-क्या सीखें हमें उम्मीद है की आपको यह article पसंद आया होगा, यदि आपके पास इससे जुड़े कोई सवाल या सुझाव हैं तो नीचे comment box में अपने विचार रख सकते हैं|

नमस्कार, मैं विवेक, WebInHindi का founder हूँ| यह एक मात्र blog है जहाँ से आप web design & development के tutorials हिंदी में प्राप्त कर सकते हैं| अगर आपको हमारा यह ब्लॉग पसंद आये तो आप हमें social media पर follow कर हमारा सहयोग कर सकते हैं|

This Is The Newest Post

इस Post से सम्बंधित किसी भी तरह का प्रश्न पूछने या सुझाव देने के लिए नीचे comment कीजिये.
EmoticonEmoticon